शाहपुर पंचायत

शाहपुर पंचायत, प० उमरेण जिला मुखयालय से उत्तर में स्थित है। प्रखण्ड मुखयालय से इसकी दूरी 23 कि.मी. और जिला मुखयालय से इसकी दूरी 17 कि.मी. है।

पंचायत के द्वारा इंदिरा विकास, नरेगा, किसान क्रेडिट कार्ड,

पंचायत के द्वारा इंदिरा विकास, नरेगा, किसान क्रेडिट कार्ड, सरकारी समिति, कन्या विवाह, ब्रधा पेंसन योजनाएँ चलाई जा रहीं है! ग्राम पंचायत में जनसंख्या के आधार पर बोरिंग, सड़क निर्माण इतियदि के लिए पंचायत को एस.एफ.सी. / टी. एफ.सी. के तहत धन उपलब्ध कराया जाता है,

 

शाहपुर पंचायत

शाहपुर पंचायत, प० उमरेण जिला मुखयालय से उत्तर में स्थित है। प्रखण्ड मुखयालय से इसकी दूरी 23 कि.मी. और जिला मुखयालय से इसकी दूरी 17 कि.मी. है। पंचायत की कुल आबादी 7009 है जिसमें पुरूष लगभग 60% तथा महिलाओं की संख्या 40% है। पंचायत में सात ग्राम आते है। इस पंचायत में 2204.64 हेक्टेयर कृषि योग्य भूमि पर खेती होती है, जिसमें मुखय रूप से सरसो,चना,आलू,जौ,प्याज,गेहूँ,बाजरा,मक्का इत्यादि फसलें उगायी जाती है। कृषि मजदूरों की संख्या ज्यादा है तथा आम लोगों के पास खेती की जमीन कम होने के कारण ज्यादातर मजदूर पलायन कर पंजाब, हरियाणा, दिल्ली में चले जाते हैं यहां की मुख्य पेशा कढ़ाई व मजदूरी है। यहा पास मे ही अलवर रेल्वे  स्टेशन है यहा से बहरोड गुजरता है। यहा ग्राम पंचायत सात ग्राम से मिलकर बनी है। इस ग्राम पंचायत मे पहाडो की एक घाटी से चलकर पहाडो के बीचो बीच एक चुरसिद्व बाबा की मजार है इसमे एक अलवर का प्रसिद्व मेला शिव रात्रि के दिन लगता हे जिसमे सभी धर्म के लोग आते माना जाता है कि सामप्रदायिक मिलन स्थल के रूप मे प्रसिद्व है! जिसमे  पूरे वर्ष पानी बहता रहता ऐसा स्थानीय लोग बताते है। की पानी कहाँ से आता इसके अन्त का कोई पता नही लगभग ५०० मी. बहने के बाद पहाड की सतह पर ही लुप्त हो जाता है। इस के पानी मे सभी रंगो की मछली पाई जाती पानी में सर्प भी पाये जाते हैं!